सोमवार, 22 जून 2015

कोई रूठा हो तो मनाना नहीं आता
फर्क पड़ता है कि नहीं बताना नहीं आता
बाद मुद्दत के वो आए भी तो क्या
प्यार कितना है जताना नहीं आता

कोई टिप्पणी नहीं: