सोमवार, 30 मार्च 2015

ताऱीफ कैसे करूं तेरी उस अदा की
लाखों का दिल तोड़ करोड़ों की ओर बढ़ी

कोई टिप्पणी नहीं: