मंगलवार, 25 मार्च 2014

हुक्कामों से मत पूछा

हुक्कामों से मत पूछो
क्या कहती है सर्दी
दीवानों से मत पूछो
क्या कहती है सर्दी
घर से निकले राही से
चौराहे पर बैठे सिपाही से
तब सब सच-सच पूछो
क्या कहती है सर्दी

कोई टिप्पणी नहीं: